नाग पंचमी

सावन माह में 21अगस्त को 7वें सोमवार का व्रत रखा जाएगा। और इसी दिन नाग पंचमी भी है। इस दिन की गयी पूजा से शिवजी के साथ-साथ नाग देवता का भी आशीर्वाद प्राप्त होगा।

इस साल सावन का महीना बहुत पावन व खास है। सावन में इस साल अधिक मास होने के कारण सावन में ही कई महत्वपूर्ण व्रत-त्योहार भी पड़े हैं इसी वजह से सावन में नाग पंचमी का पर्व अगस्त माह पड़ रहा है।

हिंदी पंचांग के अनुसार, नाग पंचमी हर साल सावन महीने के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाई जाती है। नाग पंचमी के दिन नागों की पूजा की जाती है। और विशेषकर वासुकी नाग को पूजा जाता है। भगवान भोलेनाथ अपने गले में वासुकी नाग को हमेशा कंठ माला की तरह लपेटे हुए रहते हैं। इसलिए भगवान महादेव के प्रिय सावन सोमवार के दिन नाग पंचमी का होना इसका महत्व और बढ़ा देता है। इस शुभ अवसर पर नाग देवता की पूजा-व्रत का दोगुना आशीर्वाद प्राप्त होगा।

यह दुर्लभ संयोग है कि 24 साल बाद सावन सोमवार पर नाग पंचमी होगी।
21 अगस्त 2023 को सावन को चित्रा नक्षत्र भी है।

सावन सोमवार व नाग पंचमी पर शुभ योग और पूजा मुहूर्त

शुभ योग: 20 अगस्त 2023 रात 09:59 से 21 अगस्त 2023 रात 10:21 तक
शुक्ल योग: 21 अगस्त 2023 रात 10:21 से 22 अगस्त 2023 रात 10:18 तक
पूजा मुहूर्त: 21 अगस्त 2023 सुबह 06:21 से सुबह 08:53 तक
उत्तम मुहूर्त: 21 अगस्त 2023 सुबह 09:31 से सुबह 11:06 तक
प्रदोष काल मुहूर्त: 21 अगस्त 2023 शाम 05:27 से रात 08:27 तक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *